नईदिल्ली : तीन तलाक पर अध्यादेश लाने वाली मोदी सरकार सोमवार को लोकसभा में विधेयक पेश करने कीतैयारी में है। इससे पहले ट्रिपल तलाक बिल को मंजूरी दिलाने में नाकाम रही सरकारने अध्यादेश के रास्ते इसे लागू कराया था। अब एक बार फिर सरकार राजनीतिक रूप सेखासे विवादित इस विधेयक को सदन में मंजूरी के लिए पेश करेगी। विवाहित मुस्लिममहिलाओं को एक साथ तीन तलाक के खिलाफ संरक्षण देने के लिए इस विधेयक को लाया गयाहै।

इसके अलावा सोमवार को लोकसभा में तितली और गजा चक्रवात पर भी चर्चा हो सकती है। राज्यसभा में साइक्लोन्स को लेकर दिए गए नोटिस को पिछले सप्ताह ही चेयरमैन वेंकैया नायडू ने स्वीकार कर लिया था। हालांकि हंगामे के चलते इस पर कोई चर्चा नहीं हो पाई थी।

राज्यसभा सांसद वासुदेवन मैत्रेयन की ओर से ध्यानाकर्षण प्रस्ताव पेश किए जाने के चलते इन आपदाओं पर उच्च सदन में मंगलवार को चर्चा हो सकती है। इसके अलावा पेट्रोलियम समेत अन्य चीजों की कीमतों में इजाफे को लेकर राज्यसभा अध्यक्ष ने चर्चा को अनुमति दे दी है। राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने इस मुद्दे को उठाया है।

बता दें कि गजा और तितली तूफान के चलते तमिलनाडु और ओडिशा में जान और माल का बड़ा नुकसान हुआ है। तमिलनाडु में गजा तूफान के चलते नवंबर महीने में 12 जिलों में 46 लोगों की मौत हो गई थी। इसके अलावा बड़े पैमाने पर प्रॉपर्टी और आजीविका का भी नुकसान हुआ है। केंद्र सरकार ने इस आपदा से निपटने के लिए तमिलनाडु को 353 करोड़ रुपये की अंतरिम राहत को मंजूरी दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

पूर्ण खबरें