कन्नौज बस हादसा: DNA मैच के बाद मृतकों की संख्या का होगा खुलासा

उत्तर प्रदेश के कन्नौज में शुक्रवार रात डबल डेकर स्लीपर बस और ट्रक में जबरदस्त टक्कर हो गई। इस हादसे में बस आग के गोले में तब्दील हो गया। हादसा छिबारमऊ थाना के चिलई गांव में हुआ। इस हादसे में कितने लोगों की जान गई है, इसका अभी तक पता नहीं चल पाया है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि डीएनए मैच के बाद ही सही संख्या का पता चल पाएगा। इस बस में कुल 45 यात्री थे और यह फर्रुखाबाद से जयपुर जा रही थी।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, जली हुई बस में से पुलिस ने जो अवशेष बरामद किए थे, उन्हें कन्नौज पोस्टमार्टम हाउस लाया गया है। पुलिस ने बताया कि 10 कंकाल पोस्टमार्टम हाउस लाया गया है। हालांकि बुरी तरह से शव जले होने की वजह से पहचान में मुश्किल आ रही है।

इसी बीच बस से किसी तरह बचे पीड़ितों को सरकार की ओर से मदद पहुंचाई गई। कैबिनेट मंत्री रामनरेश अग्निहोत्री ने कुल 16 पीड़ितों को 50-50 हजार रुपए की चेक सौंपी। उन्होंने बताया के छिबरामऊ में भर्ती 10 पीड़ितों को और तिर्वा मेडिकल कॉलेज में भर्ती छह लोगों को 50-50 हज़ार का चेक मुख्यमंत्री के आदेश पर दिया गया है।

बताया के गुरसहायगंज के दो और लोगों को मदद दी जाएगी, उसके पहले उनकी जांच की जाएगी। जांच के बाद मुआवजा दिया जाएगा।

प्रदेश सरकार पीड़ित परिवारों के साथ

शुक्रवार रात हुए हादसे के बाद प्रदेश सरकार गंभीर है। हादसे की पूरी पड़ताल के लिए मुख्यमंत्री के फरमान पर कैबिनेट मंत्री रामनरेश अग्निहोत्री घटनास्थल पर पहुंचे। उनके साथ डीएम और एसपी सहित कई सीनियर अफसर भी मौजूद रहे। शुक्रवार की सुबह घटना स्थल पर पहुंच कर कैबिनेट मंत्री ने सबसे पहले हादसे वाली जगह का मुआयना किया। हादसे का शिकार हुई बस को भी देखा। इस दैरान अफसरों से पूरे घटनाक्रम की जानकारी भी लेते रहे। उन्होंने घटना पर दुख जताते हुए कहा के प्रदेश सरकार दुख की इस घड़ी में पीड़ित परिवारों के साथ है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

पूर्ण खबरें