प्रियंका ने खाली किया सरकारी बंगला, किराए के घर में रहेंगी

नई दिल्ली : कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने 35, लोधी एस्टेट स्थित सरकारी आवास को खाली कर दिया है | गुरुवार को उन्होंने अपने सरकारी बंगले का कब्जा सीपीडब्ल्यूडी को दे दिया है | प्रियंका गांधी वाड्रा के कार्यालय ने बयान जारी कर इसकी जानकारी दी | प्रियंका गांधी वाड्रा को यह सरकारी बंगला सुरक्षा कारणों के चलते अलॉट हुआ था |

प्रियंका गांधी वाड्रा के कार्यालय ने बताया कि सीपीडब्ल्यूडी के जेई पी | सेंथिल कुमार ने सीपीडब्ल्यूडी के सीई (एनडीजेड-I) विकास राणा, (PAWD-I, CPWD) के AE योगेश कुमार करदम, सीपीडब्ल्यूडी सर्विसेज के एई मनोज कुमार चौहान, (PAWD-I, CPWD) के जेई बी | एस | राणा की मौजूदगी में बंगला की चाबी ली | इससे पहले सीपीडब्ल्यूडी के जेई पी | सेंथिल कुमार ने बंगले का निरीक्षण किया |

प्रियंका गांधी वाड्रा ने बंगले में जो कुछ सामान लगवाया, उसकी भी पूरी जानकारी सीपीडब्ल्यूडी और डायरेक्टरेट ऑफ एस्टेट्स को दे दी है | प्रियंका गांधी ने बिजली व पानी के बिल और पिछले बकाए का भी पूरा भुगतान कर दिया है |

इसके अलावा प्रियंका गांधी वाड्रा को डायरेक्टरेट ऑफ एस्टेट्स से 31 जुलाई तक के लाइसेंस फीस के फाइनल असेसमेंट और लीज के कैंसलेशन का इंतजार है | प्रियंका गांधी वाड्रा ने दिल्ली में स्थायी रूप से रहने के लिए एक आवास किराए पर लिया है, जिसकी मरम्मत और पुताई का काम चल रहा है |

जब तक दिल्ली में किराए पर लिया गया आवास रहने लायक नहीं हो जाता है, तब तक प्रियंका गांधी वाड्रा अस्थायी आवास में निवास करेंगी | वो अब गुरुग्राम या लखनऊ शिफ्ट नहीं हो रही हैं | प्रियंका गांधी वाड्रा को 21 फरवरी 1997 में लोधी एस्टेट स्थित बंगला अलॉट हुआ था | तब उनके पास SPG सुरक्षा थी, लेकिन Z प्लस सुरक्षा में बंगला नहीं मिलता है | प्रियंका गांधी वाड्रा इस सरकारी बंगले के लिए 37 हजार रुपये प्रति महीने का किराया दे रही थीं |

आवास और शहरी कार्य मंत्रालय ने अपने आदेश में कहा था कि एसपीजी सुरक्षा वापस लिए जाने के बाद प्रियंका गांधी वाड्रा को मौजूदा बंगला खाली करना पड़ेगा |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

पूर्ण खबरें