सत्यपाल मलिक ने आतंकियों को चेताया – समय है संभल जाओ नहीं तो…

नई दिल्ली: पाकिस्तानअधिकृत कश्मीर (POK) में भारतीय सेना द्वाराआतंकी लॉन्च पैड को तबाह करने के बाद जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक नेआतंकी संगठनों को चेतावनी दी है. उन्होंने सोमवार को कहा कि अगर आतंकियों ने अपनेइरादे नहीं  बदले तो हम पहले से भी बड़ेस्तर पर कार्रवाई करेंगे.जरूरत पड़ी तो फिर से POK के अंदर जाएंगे, आतंकीलॉन्च पैड को तबाह करके आएंगे. मलिक ने श्रीनगर में पत्रकारों से बातचीत में कहाकि कश्मीर के जो युवा इन आतंकी संगठनों का साथ दे रहे हैं उन्हें सोचना चाहिए किआखिर यह सब करके उन्हें क्या मिला. एक नवंबर के बाद इस राज्य की स्थिति पूरी तरहसे बदली हुई होगी. राज्य में कई तरह के विकास कार्य को बढ़ावा दिया जा रहा है, युवाओं के लिए नौकरियां निकालीजा रही हैं. ऐसे में इन युवाओं के पास अभी भी समय है, वह चाहें तो सब कुछ छोड़करवापस आ सकते हैं. हम चाहते हैं कि वह इस राज्य को आगे बढ़ाने में हमारे साथ मिलकरकाम करें.

बता दें कि कुछ दिन पहले ही सत्यपाल मलिक ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) के संबंध में भारत के लिए अपना रोडमैप पेश करते हुए कहा था कि भारत बिना किसी बल प्रयोग के उस क्षेत्र को वापस ले सकता है. इसके साथ ही उन्होंने भरोसा जताया था कि राज्य में सुनियोजित विकास देखकर वहां के लोग ‘विद्रोह’ करेंगे और भारत में शामिल होंगे.मलिक ने एक समारोह को संबोधित करते हुए कहा था कि कुछ मंत्री बलपूर्वक पीओके को पाकिस्तान से वापस लेने की बात कर रहे हैं. उन्होंने हालांकि किसी का नाम नहीं लिया था.    उन्होंने कहा था कि पिछले 10-15 दिनों से मैं देख रहा हूं कि हमारे कई मंत्री. पीओके पर हमला कर उसे वापस लेने आदि के बारे में बात करते रहे हैं. मेरा मानना ​​है कि अगर पीओके अगला लक्ष्य है तो हम इसे जम्मू कश्मीर के विकास के आधार पर ले सकते हैं.’ मलिक ने कहा था कि अगर हम जम्मू कश्मीर के लोगों को प्यार और सम्मान दे सकते हैं तथा उनके बच्चों के भविष्य को सुरक्षित कर सकते हैं, विकास और समृद्धि ला सकते हैं, तो मैं गारंटी दे सकता हूं कि साल भर के अंदर पीओके में विद्रोह हो जाएगा और आप इसे बिना किसी टकराव के प्राप्त कर सकेंगे. पीओके के निवासी खुद कहेंगे कि वे इस तरफ आना चाहते हैं. यह पीओके के लिए मेरा रोडमैप है.’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

पूर्ण खबरें